Slump test in Hindi || Procedure || Full Explained

 इस आर्टिकल में हमने Slump test को हिंदी में बताया है।  उसकी पूरी procedure को एक्सप्लेन किया है। slump  के प्रकार को बताया है। कंक्रीट की वोरकाबिलिटी को मेसुरे करने वाली मेथड्स की लिस्ट है।  तो आर्टिकल अच्छा लगे तो अपने फ्रेंड्स को शेयर करे।
slump test in hindi

कंक्रीट की workability को मापने की मेथड्स :

कंक्रीट की वोरकाबिलिटी को मापने की रीत निचे बताये हुए है।
  • Slump test
  • Compacting Factor Test
  • Flow test
  • Vee Bee consistometer test
  • Kelly ball test

Slump test क्या है

Slump test कंक्रीट की कंसिस्टेंसी मापने के लिए किया जाता है। slump test , फील्ड और लेबोरेटरी दोनों के लिए उपयोगी  है। दोनों जगहों पर कंक्रीट की कंसिस्टेंसी मापने के लिए किया जाता है।
Slump Test, दुसरो टेस्टो की मुकाबले बहुत सरल है। स्लंप टेस्ट की प्रोसीजर और उसके  equipment को easily उपयोग किया जाता है।

Equipment Used in Slump Test :

slump test gif
1. Slump Cone
slump cone की size निचे बताये है।
  • Top Diameter : 10cm
  • Bottom Diameter : 20cm
  • Height : 30cm
 2. Temping Rod 
temping rod की size niche बताये  हुए है।
  • 16mm diameter
  • 0.6m long
3. Mesurment scale 

Procedure of Slump Test :

  • स्लंप टेस्ट में सबसे पहले slump cone में ग्रीस अथवा तो oil लगाने में आता है।
  • फिर स्लंप कोन को hoizontal surface पर रखा जाता है। ध्यान रखे surface क्लीन और चिकनी होनी चाइये।
  • फिर कंक्रीट को एक बराबर चार लेयर में slump cone में भरा जाता है। हर कंक्रीट की लेयर को temping rod की मदद से 25 बार compaction करने में आता है।
  • slump cone  में concrete पूरा भर जाने के बाद ऊपर के सरफेस को एक बराबर किया।
  • अब slump cone को धीरे धीरे ऊपर खींचने में आता है। जिससे कंक्रीट धीरे धीरे निचे बैठता है।
  • slump cone की top surface और कंक्रीट की topsurface की बिच के अन्तर को  mesurment scale द्वारा मापा जाता है  जिसे slump कहते है। slump को मिलीमीटर में बताया जाता है।

Slump के प्रकार :

slump के तीन प्रकार होते है।
  1. true slump 
  2. shear slump 
  3. collapse slump 
types of slump in hindi

 

 1. true slump :

जो कंक्रीट कोन slump cone के बराबर  दिख रह हो अथवा तो स्लंप वैल्यू बहुत काम हो तो इस प्रकार के स्लंप को true slump कहेंगे।

2. Shear Slump :

जो कंक्रीट कोन का एक बाजु आधा गिर जाये तो इस प्रकार के slump को shear slump कहते है।

3. Collapse slump :

जो slump cone को उठाते ही कंक्रीट पूरा गिर के जमीन पर गोलाकार आकर में फैल जाये तो इस प्रकार के slump को collapse slump कहा जाता है।

Slump test की मर्यादाएं :

  • 38mm से ज्यादा साइज के एग्रीगेट के लिए slump test को उपयोग नहीं किया जाता है।
  • slump test मध्यम से high workability (25mm to 125mm slump ) वाले कंक्रीट के लिए ही उपयोग किया जाता है।
  • एक बराबर स्लंप वैल्यू वाले दो कंक्रीट की workability अलग अलग भी हो सकती है।
Also read :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *