PCC Full Form in Hindi | PCC क्या होता है

आज के इस आर्टिकल में हम जानेंगे की PCC का हिंदी में Full Form क्या होता है। सिविल इंजीनियरिंग में PCC क्या होता है। ऐ किस प्रकार का कंक्रीट है। इस का उपयोग कहा होता है। पीसीसी के फायदे और गेरफायदे कौन कौन से है। और भी बहुत कुछ तो आर्टिकल को पूरा अंत तक पड़े।

PCC full form in hindi

PCC का इंग्लिश में फुल फॉर्म होता है Plain Cement Concrete जिसे हिंदी में सादा सीमेंट कंक्रीट कहते है।

PCC क्या होता है?

PCC ये एक प्रकार का कंक्रीट है जिसका उपयोग बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन में जमीन की सतह (सपाटी) को समतल करने के लिए होता है।

सीमेंट, रेती, एग्रीगेट (कपची), और पानी के मिश्रण से बने कंक्रीट को प्लेन सीमेंट कंक्रीट कहते है। इसे सीमेंट कंक्रीट भी कहते है।

plain cement concrete kya Hota hai

किसी भी प्रकार के RCC work अथवा तो masonry work को directly जमीन के ऊपर करने के लिए पहले PCC (प्लैन सीमेंट कंक्रीट) की लेयर को बनाने में आता है। जिससे RCC अथवा तो masonry कंस्ट्रक्शन करने के लिए समतल और कठोर सतह मिले।

कंक्रीट के प्रकार के बारे में इंग्लिश में जाने : 14 Different Special Types of Concrete || Prons and Cons

PCC को बनाने में कौन कौन से मैटेरियल्स का उपयोग होता है?

प्लेन सीमेंट कंक्रीट को बनाने के लिए निचे बताये गए मैटेरियल्स का उपयोग होता है।

  • सीमेंट (Cement)
  • रेती (Sand)
  • कपची (Coarse Aggregate)
  • पानी (Water)

ज्यादातर प्लेन सीमेंट कंक्रीट को बनाने में Portland pozzolona cement का उपयोग होता है।

Plain cement concrete का प्रमाण

प्लेन सीमेंट कंक्रीट का उपयोग किये जा रहे विविन्न प्रमाण निचे बताये हुए है।

  • 1:4:8
  • 1:3:6
  • 1:2:4

जिसमे 1 सीमेंट के proportion को दर्शाता है। 4 ये रेती के proportion को दर्शाता है। वही 8 ये coarse aggregate यानि की कपची के proportion को दर्शाता है। इसी तरह सभी प्रमाण के PCC में मैटेरियल्स का proportion होता है।

Plain cement concrete (PCC) का उपयोग

  • प्लेन सीमेंट कंक्रीट का उपयोग बिल्डिंग के फाउंडेशन को बनाने से पहले जमीन के ऊपर PCC की लेयर बिछाने (bed concrete) के लिए होता है। जिससे बिल्डिंग का फाउंडेशन को हार्ड सतह के ऊपर तक सके।
  • Plain Cement Concrete का उपयोग Sill concrete (खिड़की के sill level पर बिछाये गए plain cement concrete को sill concrete कहते है।) की तरह भी होता है जिससे खिड़की को हार्ड और समतल सतह पैर टेक सके।
  • Parapet और compounds wall के ऊपर Coping बनाने के लिए PCC का उपयोग होता है।
  • Rods के pavement बनाने के लिए प्लेन सीमेंट कंक्रीट का उपयोग होता है।
  • कंक्रीट की सतह जैसे की basket ball courts अथवा तो tennis ball courts बनाने के लिए भी प्लेन सीमेंट कंक्रीट का उपयोग होता है।
  • पानी सप्लाई अथवा तो गटर लाइन्स के कंस्ट्रक्शन में भी प्लेन सीमेंट कंक्रीट का उपयोग होता है।

इन्हें भी पड़े : RCC Full Form in Hindi || RCC क्या होता है

प्लेन सीमेंट कंक्रीट के फायदे

प्लेन सीमेंट कंक्रीट के फायदे निचे बताये अनुसार है।

  • प्लेन कंक्रीट बाकि कंक्रीट की तुलना में सस्ता होता है।
  • प्लेन कंक्रीट को बनाना बहुत ही सरल है।
  • Plane cement concrete की कम्प्रेस्सिवे स्ट्रेंथ बहुत ज्यादा होती है।
  • प्लेन कंक्रीट को बनाने के लिए महंगी मशीनरी (Equipment’s) की जरूर नहीं पड़ती है।

प्लेन सीमेंट कंक्रीट के गेरफायदे

प्लेन सीमेंट कंक्रीट के गेरफायदे निचे बताये अनुसार है।

  • PCC की स्ट्रेंथ RCC अथवा तो अन्य कंक्रीट की तुलना में काम होती है।
  • प्लेन सीमेंट कंक्रीट की tensile strength बहुत कम होती है।
  • प्लेन सीमेंट कंक्रीट की गुणवत्ता को ध्यान में न रखा जाये तो प्लैन सीमेंट कंक्रीट की Durability बहुत कम हो जाती है।